The climate of most cities is still very bad, there is a possibility of light winds for the next two days, there will be relief from smog | अधिकतर शहरों की आबोहवा अभी भी बेहद खराब, अगले दो दिन हल्की हवाएं चलने की संभावना

Delhi
0 0
Read Time:4 Minute, 10 Second


  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • The Climate Of Most Cities Is Still Very Bad, There Is A Possibility Of Light Winds For The Next Two Days, There Will Be Relief From Smog

रोहतक10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
हरियाणा में प्रदूषित हवा (प्रतीकात्मक चित्र)। - Dainik Bhaskar

हरियाणा में प्रदूषित हवा (प्रतीकात्मक चित्र)।

हरियाणा में एयर क्वालिटी इंडेक्स में मंगलवार के मुकाबले बुधवार को सुधार देखा गया। प्रदेश के सभी शहरों में एक्यूआई का लेवल 400 के नीचे आ गया है, हालांकि यह लेवल अभी भी बेहद खराब की श्रेणी में आता है। प्रदेश के सबसे प्रदूषित शहरों में फरीदाबाद, जींद सबसे ऊपर रहे। पंचकूला व पलवल में एक्यूआई का ग्राफ मध्यम श्रेणी में था। कुरुक्षेत्र, भिवानी व अंबाला में स्थिति अभी खराब है। प्रदेश के बाकी शहरों में वायु प्रदूषण स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद खराब की श्रेणी में चल रहा है। उधर मौसम वैज्ञानिकों ने अगले दो दिन हल्की हवाएं चलने की संभावना जताई। ऐसे में लोगों को स्मॉग से और राहत मिलने की उम्मीद है।

हरियाणा में जलती हुई पराली।

हरियाणा में जलती हुई पराली।

फसलों के अवशेष जलाने के 101 नए केस में 25 हिसार के
हरसेक ने प्रदेश में 24 घंटे में फसल अवशेष जलाने के 101 नए मामले पकड़े हैं। कुल मामलों में अकेले हिसार से 25 हैं। इसके अलावा प्रदेश में जींद में 17, सोनीपत में 15, सिरसा में 12, पानीपत में 4, रोहतक, झज्जर व करनाल में 2-2 जगह फसलों के अवशेष जलाए गए।

बता दें कि खरीब सीजन के दौरान प्रदेश में 15 सितंबर से अब तक फसल अवशेष जलाने के 6094 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि वर्ष 2020 में इस अवधि के दौरान कुल 9057 केस मिले थे। चालू सीजन में सबसे ज्यादा फतेहाबाद में 1299, कैथल में 1157, करनाल में 935, जींद में 757, कुरुक्षेत्र में 535, सिरसा में 349, अंबाला में 297, पानीपत में 192, सोनीपत में 153, हिसार में 138, यमुनानगर में 144, पलवल में 113, रोहतक में 31, भिवानी में 7, झज्जर में 4, फरीदाबाद में 3 मामले फसलों के अवशेष जलाने के मिले हैं।

19-20 नवंबर को कहीं- कहीं हल्के बादल संभावित
कृषि मौसम विभाग विभाग हकृवि के अध्यक्ष डॉ. मदन खीचड़ के मुताबिक, प्रदेश में मौसम आमतौर पर 22 नवम्बर तक खुश्क बने रहने की संभावना है, परन्तु कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के कारण 19 व 20 नवम्बर को बीच-बीच में कहीं-कहीं हल्की बादलवाई भी संभावित है। इस दौरान राज्य में हल्की गति से पश्चिमी व उत्तर पश्चिमी हवाएं चलने से रात्रि तापमान में हल्की गिरावट आने के आसार हैं। प्रदेश में दिन का तापमान सामान्य के आसपास बने रहने की संभावना है।

एक्यूआई का ग्राफ
0 से 50 अच्छी
51 से 100 संतोषजनक
101 से 200 मध्यम
201 से 300 खराब
301 से 400 बेहद खराब
401 से 500 खतरनाक
500 से ऊपर आपातकाल

अलग-अलग शहरों में एक्यूआई

शहर— मंगलवार— बुधवार हिसार— 398— 323 अंबाला— 260— 260 बहादुरगढ़— 377— 352 बल्लभगढ़— 350— 305 भिवानी— 336— 274 चरखीदादरी— 397— 343 फरीदाबाद— 397— 380 फतेहाबाद— 345— 274 गुरुग्राम— 379— 323 जींद— 427— 380 कैथल— 292— 257 करनाल— 265— 285 कुरुक्षेत्र— 277— 277 मानसेर— 405— 338 नारनौल— 342— 326 पलवल— 210— 186 पंचकूला— 112— 120

खबरें और भी हैं…



Source link

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *