Riddhi of Karnal won silver medal in Asian archery competition, people welcomed her upon reaching the city, Riddhi’s next target was gold in archery | एशियाई तीरंदाजी स्पर्धा में करनाल की रिद्धि ने सिल्वर मेडल जीता, लोगों ने शहर पहुंचने पर किया स्वागत, रिद्धि का अगला लक्ष्य तीरंदाजी में गोल्ड

Haryana
0 0
Read Time:3 Minute, 27 Second


  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Karnal
  • Riddhi Of Karnal Won Silver Medal In Asian Archery Competition, People Welcomed Her Upon Reaching The City, Riddhi’s Next Target Was Gold In Archery

करनालएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
तीरंदाजी में भारत सिल्वर मेडल जीतने पर स्वागत करते लोग। - Dainik Bhaskar

तीरंदाजी में भारत सिल्वर मेडल जीतने पर स्वागत करते लोग।

बांग्लादेश के ढाका में आयोजित 22वीं एशियाई तीरंदाजी चैंपियनशिप में भारत की महिला टीम ने सिल्वर मेडल जीता है। तीरंदाजी की भारत की महिला टीम में शामिल करनाल की 17 वर्षीय रिधी फोर, झारखंड की अंकिता भकत और यूपी की मधु वेदवान ने क्वार्टर फाइनल में जीत दर्ज कर सेमीफाइनल में वियतनाम को 6-0 से हराकर सिल्वर पदक जीता है। यह स्पर्धा 11 नवंबर से 20 नवंबर के बीच हुई थी।

एशियाई तीरंदाजी चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतने पर रिद्धि फोर का रविवार को शहर में स्वागत किया गया। एशियन चैंपियनशिप के लिए करनाल की बेटी रिद्धि सबसे कम उम्र की छात्रा तीरंदाजी के लिए चयन हुई थी। उन्होंने झारखंड के जमशेदपुर स्थित जेआरडी टाटा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में एशियन चैंपियनशिप ट्रायल में प्रथम रैंक हासिल किया था, जहां देशभर से 340 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था। रिद्धि का अब अगला लक्ष्य अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गोल्ड मेडल लेकर आना है। इसके लिए वे दिन-रात तीरंदाजी में अभ्यास कर रही हैं।

रिद्धि राष्ट्रीय स्तर पर जीत चुकी कई पदक: इससे पहले पांच अंतरराष्ट्रीय और 47 राष्ट्रीय स्तर के पदकों के अलावा रिद्धि फोर 41 जूनियर नेशनल तीरंदाजी प्रतियोगिता में दो सिल्वर और एक ब्राॅन्ज मेडल जीत चुकी है। रिद्धि के पिता मनोज ने बताया कि रिद्धि ने महिला टीम तीरंदाजी में सिल्वर मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया है। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी के नाम से उन्हें पहचान मिली है। वे अपनी बेटी से ही कामना करते है कि वे देश के लिए आगे गोल्ड लेकर आए।

पापा ने घर की छत पर सिखाई तीरंदाजी

तीरंदाजी में एशियन चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतकर आई रिद्धि फोर ने बताया कि उनके पापा ने सबसे पहले तीरंदाजी घर पर छत पर करनी सिखाई, जिससे उसने छोटी सी उम्र से ही तीरंदाजी करना शुरू कर दिया था। वे पिछले 9 साल से तीरंदाजी कर रही हैं। वर्तमान में रिद्धि अब सोनीपत के साईं में तीरंदाजी का प्रशिक्षण ले रही हैं। अब उनका लक्ष्य देश के लिए गोल्ड लेकर आना है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *