To get the job, two selected candidates showed the father alive, investigation 28 got the marks by giving the wrong affidavit | नौकरी पाने के लिए दो चयनित उम्मीदवरों ने जिंदा पिता को दिखाया मरा, जांच 28 ने गलत शपथ पत्र देकर हासिल किए अंक

Haryana
0 0
Read Time:3 Minute, 57 Second


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • To Get The Job, Two Selected Candidates Showed The Father Alive, Investigation 28 Got The Marks By Giving The Wrong Affidavit

सनमीत सिंह थिंद40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग का क - Dainik Bhaskar

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग का क

हरियाणा में पुरुष और महिला सब इंस्पेक्टर की 465 पदों की भर्ती में चयनित दो उम्मीदवारों ने जिंदा पिता को मरा दिखा दिया। ऐसे में पांच अंक हासिल करके भर्ती में चयन करवा लिया और पांच अंकों की वेटेज हासिल की। करीब 28 ऐसे उम्मीदवार है जिन्होंने गलत तरीके से सामाजिक आर्थिक आधार पर मिलने वाले अंक हासिल किए। सब इंस्पेक्टर भर्ती मामलें में 360 उम्मीदवारों ने सामाजिक आर्थिक आधार पर अतिरिक्त अंक प्राप्त किए थे। 40 चयनित उम्मीदवारों ने किसी भी प्रकार के अंकों के लिए आवेदन नहीं किया। मामले की जांच जारी है।

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग को अभी तक शपथ पत्रों की प्राप्त जांच रिपोर्ट में करीब दो उम्मीदवार ऐसे मिले हैं, जिनके पिता जिंदा थे। परंतु दोनों उम्मीदवारों ने अपने पिता को मरा हुआ दिखा दिया। 22 नवंबर को पंचकूला में 360 उम्मीदवारों को दस्तावेज लेकर आने के लिए कहा गया था। जिमसें से 15 आए ही नहीं। हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने इन 15 उम्मीदवारों को मान लिया है कि इन्होंने झूठे शपथ पत्र देकर अंक प्राप्त किए थे। कुल 28 उम्मीदवार ऐसे है जिन्होंने गलत शपथ पत्र देकर सामाजिक आर्थिक आधार पर अंक प्राप्त किए है।

तीन जांच एजेसियां कर रही है जांच

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के चेयरमैन भोपाल सिंह खदरी का कहना है कि जिलों में पुलिस भर्ती में चयनित आवेदकों की जांच सीआईडी, तहसीलदार और डीसी की अध्यक्षता में आधारित कमेटी कर रही है। हालांकि जांच के लिए कोई समय सीमा निर्धारित नहीं है। परंतु आयोग अब चीफ सेक्रेटरी को पत्र लिखकर जांच एजेंसियों से जांच का समय सीमा निर्धारण करवाएगा।

परिवार में बहन को सरकारी नौकरी मिली तो भी मिलेगा पांच अंक का लाभ

जिन उम्मीदवारों की बहने सरकारी नौकरी में लगी हुई है, उन्हें पांच अंक की वेटेज का लाभ मिलेगा। परिवार में मां, बाप, भाई और बेटा सरकारी नौकरी में है तो उन्हें पांच अंक का लाभ नहीं मिलेगा। परिवार का कोई एलआईसी या गेस्ट टीचर, आंगनबाडी वर्कर और हेल्पर लगा है या बर्खास्त पीटीआई या बर्खास्त आर्ट एंड क्राफ्ट टीचर रह चुका है तो भी उम्मीदवार को पांच अंक का लाभ मिलेगा। इसके अतिरिक्त यदि किसी उम्मीदवार के पिता की मौत 42 या इससे कम उम्र में या पिता की मौत के समय उम्मीदवार 15 सल से कम उम्र का रहा हो तो ऐसे उम्मीदवार को पांच अंक दिए जाते हैं। साथ ही यदि परिवार में से कोई सरकारी नौकरी में नहीं है तो उसके भी पांच अंक का प्रावधान है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *